marketing kya hai

मार्केटिंग एक ऐसा शब्द है जिसका महत्व इतना ज्यादा है की इसका हम बिलकुल भी अनुमान नहीं लगा सकते हैं। जी हाँ मार्केटिंग को आज के समय में समझना बहुत ज्यादा जरुरी है क्यूंकि एक व्यापार को बढ़ाने से लेकर सभी ऐसे कार्य जिसमें हम उसको बहुत अधिक से अधिक लोग तक पहुँचाना चाहते हैं तो हमें मार्केटिंग का ही सहारा लेना पड़ जाता है। आज के समय में मार्केटिंग के सिर्फ एक ही प्रकार नहीं हैं बल्कि बहुत से प्रकार हैं और अलग अलग प्रकार के तरीको से मार्केटिंग किया जाता है पुराने समय में मार्केटिंग के इतने प्रकार नहीं थे। परन्तु आज के समय में हमारे पास अनेको तरीके हैं। चलिए हम मार्केटिंग को विस्तार से समझते हैं। Marketing kya hai?

मार्केटिंग की परिभाषा

मार्केटिंग की परिभाषा को हम अगर देखें तो इसका अर्थ होता है की अपने किसी बिज़नेस को लोगो तक पहुंचाना और उससे लाभ अर्जित करना। मार्केटिंग का अगर सीधा मतलब जाने तो अपने किसी व्यापार का लोगो तक प्रचार करना और उन्हें अपने उस व्यापर के  बताना की आखिर आपका व्यापर किस बारे में है और उसकी खूबियां। अपने व्यापार को पूर्णतः सभी तक पहुँचाना ही मार्केटिंग होता है। और जब आप अच्छे से सब कुछ कर लेते हैं तो आप बनाते हैं एक ब्रांड। 

मार्केटिंग के प्रकार

चलिए बात कर लेते हैं हम मार्केटिंग के प्रकार की जो आज के समय में बहुत ज्यादा है आपको पता होना। तो मार्केटिंग के सबसे मुख्य प्रकारों में सिर्फ 2 ही प्रकार हैं जिसमे पहला है ऑनलाइन मार्केटिंग और दूसरा है ऑफलाइन मार्केटिंग। ऑफलाइन मार्केटिंग की बात करें तो यह पारम्परिक प्रकार का मार्केटिंग है जो पुराने समय से लेकर आज तक चली गयी आ रही है। और वहीँ बात करें ऑनलाइन मार्केटिंग की तो यह तरीका आज केस समय में सबसे प्रभावशाली तरीका है।

मार्केटिंग के लाभ

चलिए बात कर लेते हैं हम अब की मार्केटिंग करने के आखिर लाभ क्या होते हैं। तो अगर अब हम मार्केटिंग के लाभों के की बात करें तो यह हम बताकर समझा सकते हैं परन्तु आप इसको अगर स्वयं आजमाएंगे तो यह काफी ज्यादा आसान हो जायेगा आपको समझने में। लेकिन चलिए हम समझ भी लेते हैं।

मार्केटिंग का लाभ1.  मार्केटिंग के लाभों की बात करें तो इसका सबसे बड़ा लाभ यह है की मार्केटिंग के कारण आप अपने बिज़नेस को बहुत अधिक रफ़्तार के साथ बढ़ा सकते हैं और बहुत अधिक मात्रा में पैसे कमा सकते हैं। 

2. मार्केटिंग करने से आपके बिज़नेस की वैल्यू बहुत बहुत अधिक बढ़ती है लोग अधिक से अधिक मात्रा में आपके बिज़नेस को जानेंगे से आपका बिज़नेस का विकास बहुत अधिक तेज़ी से होगा। 

3. मार्केटिंग के कारन ही आप अपने बिज़नेस को एक ब्रांड बना सकते हैं क्यूंकि जितना अधिक से अधिक लोग आपके बिज़नेस को जानेंगे उतना ही अच्छा होगा आपके बिज़नेस के लिए और आप अपने बिज़नेस को एक ब्रांड बना सकते हैं। 

4. जब आप मार्केटिंग शुरू करेंगे तो आपका बिज़नेस सिर्फ उस शहर तक नहीं बल्कि आप उसे दुनिया के हर कोने कोने तक पहुंचा सकते हैं पूरी दुनिया आपके बिज़नेस को जान जाएगी जिससे आपका बिज़नेस आसमान की ऊंचाइयों तक पहुँच जायेगा।

मार्केटिंग कैसे करें?

अब हम बात करते हैं इस ब्लॉग के सबसे मुख्य विषय की, कि आखिरकार मार्केटिंग करें तो कैसे करें तो चलिए हम इस विषय को बहुत अच्छे से समझेंगे और सभी उन विषयों को समझेंगे –

1. ऑफलाइन मार्केटिंग –

ऑफलाइन मार्केटिंग में अगर हम मार्केटिंग करने के तरीकों की बात करें तो परम्परागत तरीके आते हैं और इन परंपरागत चीज़ों में अगर देखें तो बहुत साडी चीज़े हैं। जैसे – बैनर, पम्पलेट, बिलबोर्ड, स्वयं जाकर लोगों को बताना,पेंटिंग्स,रेडियो आदि का प्रयोग करना।

2. ऑनलाइन मार्केटिंग –

चलिए बात करते हैं अब हम ऑनलाइन मार्केटिंग जो की आज के समय में आपके बिज़नेस के लिए रामबाण है क्यूंकि माना की ऑफलाइन मार्केटिंग जरुरी है लेकिन ऑनलाइन मार्केटिंग उससे कहीं ज्यादा जरुरी है एक बिज़नेस के लिए। ऑनलाइन मार्केटिंग करके ही आज के समय में बिज़नेस को बढ़ा सकते हैं क्यूंकि ऑफलाइन मार्केटिंग अब उतना ज्यादा वैल्यू नहीं दे पता है और ऑफलाइन मार्केटिंग काफी महंगा भी हो जाता है।

ऑनलाइन मार्केटिंग कैसे करना है और क्या-क्या करना है तो मैं अगर आपको बताऊँ तो ऑनलाइन माफरकेटिंग में – वीडियो मार्केटिंग, सोशल मीडिया मार्केटिंग, टी वी के द्वारा मार्केटिंग, वेबसाइट मार्केटिंग, ये सभी तरीकें हैं जिनका प्रयोग करके आप मार्केटिंग कर सकते हैं। क्या अभी भी आपको प्रश्न है की Marketing kya hai? तो कमेंट में बताओ और बिस्तर से समझाता हूँ।

Thanks to visiting Digi Different, still searching? marketing kya hai?, you can visit my YouTube channel Digi Different for tech and digital marketing related to videos, or go on Home Page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *